रेल हादसा: लापरवाही का दोषी पाए जाने पर एएसएम निलंबित, मृतकों में पांच बिहार के


farakka-express_1539157866
   lucknow | रायबरेली के हरचंदपुर के आउटर पर बुधवार सुबह मालदा टाउन से दिल्ली जा रही न्यू फरक्का एक्सप्रेस के चार डिब्बे पटरी से उतर गए। हादसे में सात की मौत हो गई जबकि 30 से ज्यादा घायल हो गए। जानकारी मिलते ही जिले के एसपी व डीएम को घटनास्थल पर भेजा गया। मामले में प्रथमदृष्टया लापरवाही का दोषी मानते हुए असिस्टेंट स्टेशन मास्टर आशीष कुमार को निलंबित कर दिया गया। घायलों को जिला अस्पताल ले जाने के अलावा गंभीर घायलों को लखनऊ रेफर गया। जहां बलरामपुर अस्पताल और ट्रॉमा में उनका इलाज चल रहा है।

रेल हादसे पर प्रमुख सचिव गृह अरविंद कुमार ने बयान दिया कि राहत व बचाव कार्य अब भी जारी है। कमिश्नर आईजी भी मौके पर मौजूद हैं। पांच की मौत हुई है जबकि 17 अस्पताल में भर्ती करवाए गए हैं और सभी खतरे से बाहर हैं।

हादसे की जानकारी के कुछ देर बाद ही यूपी सरकार ने मुआवजे की घोषणा कर दी थी। मृतकों के परिवारीजनों को दो लाख रुपये की सहायता तो घायलों को 50 हजार रुपये देने का ऐलान किया गया। रेलवे बोर्ड के चेयरमैन अश्विनी लोहानी भी घटना का जायजा लेने के लिए रायबरेली गए।

हादसे में मृतकों का विवरण
– शम्भू (25 वर्ष) पुत्र मोहन, निवास- गड़ौरा, खड़कपुर, मुंगेर, बिहार
– सुनीता (54) पत्नी मोहन, निवास- गड़ौरा, खड़कपुर, मुंगेर, बिहार
– रीता (01) पुत्री मोहन, निवास- गड़ौरा, खड़कपुर, मुंगेर, बिहार
– अजय कुरी (45) पुत्र घुतकानंद पुरी, निवास- भगजामरा, किसनगंज, बिहार।
– दिनेश मांझी (7) पुत्र रसिकलाल मांझी, निवास- लक्ष्मीपुर, थाना हवेली, मुंगेर, बिहार


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Scroll To Top