प्रदेश सरकार द्वारा इन्वेस्टर मीट के नाम पर जनता को विज्ञापनों से गुमराह किया जा रहा है—-राजेंद्र चौधरी


10-02 a
लखनऊ |
        समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय सचिव राजेंद्र चौधरी ने कहा है कि प्रदेश सरकार द्वारा इन्वेस्टर मीट के नाम पर जनता को विज्ञापनों से गुमराह किया जा रहा है। जिस लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस-वे का जोरशोर से भाजपा सरकार उल्लेख कर रही है उसके निर्माण का ऐतिहासिक कार्य करने वाले पूर्व मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव की चर्चा तक नहीं कर रही है। उत्तर प्रदेश की भाजपा सरकार को सच्चाई का सामना करते हुये निवेशकों के शीर्ष सम्मेलन की तैयारियों में उत्तर प्रदेश को विकास के पथ पर ले जाने वाले श्री अखिलेश यादव के कार्यकाल की उपलब्धियों का सच बताना चाहिए।
श्री चौधरी ने कहा कि समाजवादी सरकार में जहां एक ओर 23 महीनें में 302 किमी. लम्बी एक्सप्रेस-वे का निर्माण कर आवागमन को सुगम और बेहतर बनाने का काम किया गया था वहीं दूसरी ओर खेती-किसानों की बेहतरी के लिये बजट का 75 प्रतिशत किसानों को आर्थिक रूप से सशक्त बनाने के लिये रखा गया था। प्रदेश की राजधानी को विकसित देशों की तर्ज पर लाने के लिये अल्पसमय में मेट्रो का संचालन करने का काम श्री अखिलेश यादव ने ही किया।
   राष्ट्रीय सचिव राजेंद्र चौधरी ने कहा है कि    प्रदेश में इन दिनों चारों तरफ निवेशकों के शीर्ष सम्मेलन का बड़ा हो-हल्ला है। कुछ ऐसा माहौल बनाया जा रहा है कि जैसे उत्तर प्रदेश का काया पलट होने जा रहा है। बड़े-बड़े उद्योगपतियों को बुलावा भेजा गया हैं। उनके स्वागत में पूरे शहर के सौंदर्यीकरण के नाम पर रंगाई पुताई चल रही हैं लेकिन इस शीर्ष सम्मेलन में सिर्फ प्रस्तावों के कागज ही बंटने है।
  निवेशक समझौते के कागजों पर हस्ताक्षर करके चले जाएंगे। नौजवानों को रोटी-रोजगार कैसे मिलेगा? इसका प्रारूप कहां है? भाजपा सरकार को बताना चाहिए। भाजपा वादे बांटती रही है, उससे कोई फर्क नहीं पड़ने वाला है। अगर कानून-व्यवस्था में सुधार नहीं होगा तो कोई क्यों राज्य में निवेश करने आएगा ?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Scroll To Top