युवा मंगल दल बदलेगा प्रदेश में खेल का माहौलः चेतन चैहान


22712575_1942671319387397_276829446249554674_o

लखनऊ,। आर्मी, सर्विसेज, रेलवे सहित कई महत्वपूर्ण प्रक्रमों में ताइक्वांडो की आधारशिला रखने वाले लखनऊ के मो.नदीम, मणिपुर विधानसभा के स्पीकर वाई.खेमचंद्र, विख्यात फिल्म अभिनेत्री नीतू चंद्रा आज किसी पहचान की मोहताज नहीं है। इनके साथ देश के लिए ताइक्वांडो में इंटरनेशनल लेवल तक चमक बिखेर चुके प्लेयर्स व कोच तथा ताइक्वांडो से जीवन सफल बनाने की कला सीख चुके उद्यमी व व्यवसायियों सहित 65 विभूतियों को ताइक्वांडो फेडरेशन ऑफ इंडिया (टीएफआई) की 41वीं वर्षगांठ के अवसर पर 22 अक्टूबर को ‘ताइक्वांडो हाल ऑफ फेम इण्डिया-2017’ सम्मान से सम्मानित किया गया। गोमतीनगर स्थित होटल में आयोजित इस समारोह का उद्घाटन अंतर्राष्ट्रीय खिलाड़ी व खेल व युवा कल्याण मंत्री यूपी सरकार चेतन चैहान ने किया। कार्यक्रम की अध्यक्षता पूर्व केन्द्रीय मंत्री, सांसद एवं ताइक्वांडो संघ के अध्यक्ष कलराज मिश्रा ने की।

इस दौरान बॉलीवुड अभिनेत्री नीतू चंद्रा, आगरा के महंत योगेश पुरी, खेमचंद्र (स्पीकर, मणिपुर विधानसभा), सहित अनेकों लोगों को यह सम्मान दिया गया। इनमें किरन उपाध्याय (इंटरनेशनल मेडलिस्ट), हरीश गिडवानी (कमिश्नर, इन्कम टैक्स), सैयद रफत (इंटरनेशनल प्लेयर्स), मो.नदीम (इंटरनेशनल मेडलिस्ट), सुधीर हलवासिया (शिक्षाविद, व्यवसायी), महेंद्र मोहन जायसवाल (फिल्म अभिनेता टाइगर श्राफ के कोच) दीपक गिडवानी (सीनियर पत्रकार) का भी सम्मान हुआ। इस दौरान फिल्म अभिनेता टाइगर श्राफ का हाल ऑफ फेम अवार्ड उनके कोच महेंद्र मोहन जायसवाल ने प्राप्त किया।

इस दौरान सैयद रफत ने कहा कि आज 41 साल बाद दीपावली के अवसर पर ताइक्वांडो के सभी पुराने दिग्गज आपस में मिले है। अतः भारतीय ताइक्वांडो के इतिहास में यह मौका दीपावली से कम नहीं है। इन विभूतियों को ताइक्वांडो फेडरेशन ऑफ इंडिया की ओर से सम्मान के तहत हाल ऑफ फेम स्मृति चिन्ह, पदक, टाईपिन व बैच लगाकर सम्मानित किया गया। इस दौरान बृजेश पाठक (माननीय कैबिनेट मंत्री यूपी सरकार), यूपी ओलंपिक संघ के महासचिव आनन्देश्वर पांडेय सहित कई गणमान्य अतिथि मौजूद थे। इस अवसर पर ताइक्वांडो फेडरेशन ऑफ इंडिया की 41वीं वर्षगांठ के मौके पर काटा गया। इस दौेरान ताइक्वांडो हाल ऑफ फेम स्मृतिका का विमोचन भी किया गया। सम्मानित होने वाली विभूतियों में सैयद रफत (यूपी), सुधीर हलवासिया (यूपी), राकेश लाधानी (यूपी), पीटर जगत्यानी (यूपी), आनंद पांडे (यूपी), अशोक भार्गव (यूपी), हरीश गिडवानी (यूपी), महंत योगेश पुरी (यूपी), एस.जावेद (यूपी), दीपक गिडवानी (यूपी), दिनेश कुमार सिंह (यूपी), मो.नदीम (यूपी), मो.रईस (यूपी), प्रहलाद रूपानी (यूपी), अमित यादव (यूपी), एसएस रिजवी (यूपी), राम गोपाल बाजपेयी (यूपी), शिव पाठक (यूपी), मो.शाहनवाज (यूपी), हरिओम मिश्रा (यूपी), मदन लाल (यूपी), किरन कश्यप (यूपी), संजय तिवारी (यूपी), राकेश गुप्ता (यूपी), संजय राना (यूपी), इश्तियाक अहमद (यूपी), अरूण थापा (यूपी), रोहिताश्व पोद्दार (महाराष्ट्र), महेंद्र मोहन जायसवाल (महाराष्ट्र), नीतू चंद्रा (महाराष्ट्र), किरन उपाध्याय (महाराष्ट्र), प्रेम गुरंग (महाराष्ट्र), दीपक कुमार (महाराष्ट्र), आशीष पांडे (दिल्ली), नरेश सिंह (दिल्ली), मनोज त्यागी (उत्तराखंड), एम.नगूर (आंध्र प्रदेश), पी.चैतन्या (आंध्र प्रदेश), ज्ञानेंद्र कुमार उपाध्याय (आर्मी), बीएस हांडा (चंडीगढ़), अमिता मारवाह (चंडीगढ़), महेश प्रिदलानी (दुबई), वीनू भाई परमा (गुजरात), रमेश खन्ना (हरियाणा), विष्णु कुमार शर्मा (हिमाचल प्रदेश), गौरव अरोड़ा (जम्मू-कश्मीर), अरूण कुमार श्रीवास्तव (झारखंड), अनिल फ्रांसिस (केरल),एम.सुंदरम (कर्नाटक), वाई.खेमचंद (मणिपुर), इंद्र कुमार सिंह (मणिपुर), गजानंद सुनहरे (मध्य प्रदेश), आर.पणिग्रही (ओडिशा), सतपाल रेहल (पंजाब), चरनजीत एस.सूद (राजस्थान), मनोज अग्रवाल (राजस्थान), केवि बाबू राव (तमिलनाडु), जॉन एलेक्जेंडर (तमिलनाडु), के.बाबू (तमिलनाडु), रूपकमल नंदी (पष्चिम बंगाल), गोपाल झा (बिहार)

इस मौके पर खेल मंत्री चेतन चैहान ने कहा कि अब खेल को प्रोफेशनल के तौर पर लिया जाता है जिसका फायदा प्लेयर्स को मिल रहा है। हम प्रदेश में खेल के माहौल को बेहतर बनाने के लिए युवा मंगल दल बनाएंगे जो गांव-गांव जाकर खेल की नींव मजबूत करेगा। यहीं नहीं हर जिले से विधायक और सांसद अपने क्षेत्र में स्टेडियम बनाने का निवेदन करते है। यह बदल रहे माहौल का संकेत है। हमारा लक्ष्य है कि अगले दस साल में कम से कम 5 गोल्ड मेडल यूपी को इंटरनेशनल लेवल पर मिले। इसके लिए हमने खेल सुविधाओं को बढाया है। इसके लिए खेल की डायट मनी 100 रुपए से बढ़ाकर 250 रुपए तथा किट मनी 1000 से बढ़ाकर 2500 रुपए की। यहीं नहीं नेशनल खेल अवार्ड से सम्मानित प्लेयर्स को 20 हजार रुपए की मासिक पेंशन भी दी जाएगी।

उन्होंने कहा कि ताइक्वांडो आत्मरक्षा के लिए एक बेहतरीन खेल है तथा आत्मरक्षा के लिए लोगों को ताइक्वांडो का प्रशिक्षण लेना चाहिए। सैयद रफत ने कहा कि जिस तरह दीपावली के अवसर पर भगवान राम अयोध्या पहुंचे और उनका उनके भक्तों से पुनःमिलन हुआ। उसी तरह से आज 41 साल बाद दीपावली के अवसर पर ताइक्वांडो के सभी पुराने दिग्गज आपस में मिले है। अतः भारतीय ताइक्वांडो के इतिहास में यह मौका दीपावली से कम नहीं है। बॉलीवुड अभिनेत्री नीतू चंद्रा ने कहा कि हमारे पास अच्छे कोच है जरूरत ये है कि उनको विदेशी एडवांस तकनीकों का रिफ्रेशर कोर्स कराया जायेगा।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Scroll To Top